Search
Previous
Satyug 1 English on Kindle

Satyug 1 (English) – Read Online

159.00
Next

Incognito #1 – The Beast Cometh (English)

Original price was: ₹199.00.Current price is: ₹126.00.
Incognito 1 English Cover

Satyug 1 (Hindi) – Read Online

159.00

(1 customer review)

पुस्तक विवरण

  • कुल पृष्ठ संख्या – 32
  • किंडल अनलिमिटेड के साथ मुफ्त।

आभार सूचि

  • कहानी – भूपिंदर ठाकुर और सुदीप मेनन
  • लेखन – सुदीप मेनन
  • चित्रांकन – कायो पेगाडो
  • रंग – संतोष पिल्लेवार
  • मुख्य पृष्ठ (लिमिटेड एडिशन) – कायो पेगाडो और मौरीसिओ सल्फेट
  • शब्दांकन और संपादक – रवि राज आहूजा
  • ग्राफ़िक डिज़ाइन – संतोष पिल्लेवार
  • प्रेसिडेंट और मुख्य संपादक – भूपिंदर ठाकुर
  • सतयुग के रचनाकार – भूपिंदर ठाकुर

अस्वीकरण

© 2022 स्वयंभू एंटरटेनमेंट। सर्वाधिकार सुरक्षित। यह एक काल्पनिक कृति है। इस पुस्तक के सभी नाम, पात्र, व्यवसाय, स्थान, और घटनाएँ या तो लेखक की कल्पना की उपज हैं या काल्पनिक तरीके से उपयोग की गई हैं। वास्तविक व्यक्तियों, जीवित या मृत, या वास्तविक घटनाओं से कोई भी समानता विशुद्ध रूप से संयोग है।

Add to Wishlist
Add to Wishlist

Description

1991 में एक ऐसा भयावह और रहस्यमयी कत्ल होता है जिससे दुनिया आजतक बेखबर है। वर्तमान में 15 वर्षीय युगांत कपूर उर्फ युग की जिंदगी बस क्रिकेट और कॉमिक्स के इर्द गिर्द घूमती है। पर उसकी साधारण जिंदगी असाधारण मोड़ लेने लग जाती है। युग को एक भयानक सपना हर रात आने लग जाता है। इस सपने के तार उसे 90 के दशक में हुए उस मर्डर केस की तरफ ले जाते हैं, जिस का रहस्य उसका जीवन हमेशा के लिए बदलने वाला है। इकॉग्निटो के रचयिता पेश करते हैं एक कहानी दोस्ती की प्यार की और विश्वासघात की। सुदीप मेनन द्वारा लिखी सतयुग श्रद्धांजलि है राज खोसला और ऐल्फ्रेड हिचकॉक के नॉयर फिल्मों को, जिसका चित्रांकन किया है कायो पेगाडो ने और जिसकी रंगसज्जा की है संतोष पिल्लेवार ने।

1 review for Satyug 1 (Hindi) – Read Online

  1. Gautam Yadav

    कहानी-
    एक लड़का ‘युग’ जिसे एक दिन अचानक से भूत दिखने लगते हैं। उसकी इस नई क्षमता के साथ -साथ उसके पास आते हैं, उसके शहर अस्तिपुर के बहुत से पुराने पाप जिनका कभी उद्धार ही नहीं किया गया। जिस भूत से उसकी मुलाकात पहली बार हुई थी, उसका नाम सत्या रहता है। सत्या और युगांत दोनों मिलकर उन पापों का उद्धार करते हैं जो कभी अस्तिपुर की जमीन पर किए गए थे।

    सतयुग, अध्याय 01 की कहानी एक बहुत ही सरल कहानी है।
    या फिर अभी सिर्फ हमें ऐसा लग रहा है,..

    क्योंकि युग के डरावने सपने!
    सिर्फ उसका भूतों को देख पाना!
    सत्या और उसका मिलना नियति का तय होना!

    Rating 7.4
    कहानी- 3.2
    आर्ट- 4..2

Add a review

Your email address will not be published. Required fields are marked *